The world is the great gymnasium where we come to make ourselves strong.

Posts in "Other" Category

  • Right time to drink water - पानी पीने के तरीके

    Category : Other By : Sumit sen
    Comments
    0
    Views
    20
    Posted
    21 Jul 2017

    पानी पीने के तरीके

    ये जानना बहुत जरुरी है...

    हम पानी क्यों ना पियें, खाना खाने के बाद....!!!

    क्या कारण है...???

    हमने दाल खायी...  हमने सब्जी खायी...  हमने रोटी खायी... हमने दही खाया...  लस्सी पी...
    दूध, दही, छाछ, फल आदि....
    ये सब कुछ भोजन के रूप में हमने ग्रहण किया

    ये सब कुछ हमको उर्जा देता है
    और पेट उस उर्जा को आगे ट्रांसफर करता है

    पेट में एक छोटा सा स्थान होता है, जिसको हम हिंदी मे कहते हैं...
    *अमाशय*
    उसी स्थान का संस्कृत नाम है... *जठर*
    उसी स्थान को अंग्रेजी मे कहते हैं...
    *Epigastr…

  • 9 short Story

    Category : Other, Motivational By : Anonymous
    Comments
    0
    Views
    19
    Posted
    21 Jul 2017

    9 short stories worth reading, feeling and forwarding to all those dear to you ..

    1. FALL and RISE
     
    Today, when I slipped on the wet tile floor a boy in a wheelchair caught me before I slammed my head on the ground.  He said, “Believe it or not, that’s almost exactly how I injured my back 3 years ago .

    2. A FATHER'S ADVICE

    Today, my father told me, “Just go for it and give it a try!  You don’t have to be a professional to build a successful product.  Amateurs started Google and Apple.  Pro…

  • Way of Talking

    Category : Other By : Anonymous
    Comments
    0
    Views
    4
    Posted
    21 Jul 2017











    रोटी पर "घी" और

    नाम के साथ "जी"
    लगाने से,
    "स्वाद" और "इज्जत" 
    दोनों बढ़ जाते हैं |

    इंसान “जन्म” के दो “वर्ष” बाद
       “बोलना” सीख जाता है

         लेकिन

    “बोलना” क्या है ये “सीखने” मैं
    पूरा “जन्म” लग जाता है।

  • True Line

    Comments
    0
    Views
    21
    Posted
    17 Jul 2016


    True Line




    कितना सत्य है ना.....

    भक्ति जब भोजन में प्रवेश करती है,
    भोजन 'प्रसाद' बन जाता है।
    भक्ति जब भूख में प्रवेश करती है,
    भूख 'व्रत' बन जाती है।
    भक्ति जब पानी में प्रवेश करती है,
    पानी 'चरणामृत' बन जाता है।
    भक्ति जब सफर में प्रवेश करती है,
    सफर 'तीर्थयात्रा' बन जाता है।
    भक्ति जब संगीत में प्रवेश करती है,
    संगीत 'कीर्तन' बन जाता है।
    भक्ति जब घर में प्रवेश करती है,
    घर 'मन्दिर' बन जाता है।
    भक्ति जब कार्य में प्रवेश करती है,
    कार्य 'कर्म' बन जाता है।
    भक्ति जब क्रिया में प्रवेश करती है,
    क्रिया 'सेवा' …

  • Child Poem in English-The Little Plant

    Category : Other, Entertainment By : Anonymous
    Comments
    0
    Views
    477
    Posted
    15 May 2017

     

     

    The Little Plant


    In the heart of a seed,

    Buried deep so deep,

    A tiny plant

    Lay fast asleep

    “Wake,” said the sunshine,

    “And creep to the light.”

    “Wake,” said the voice

    Of the raindrops bright

    The little plant heard

    And it rose to see,

    What the wonderful,

    Outside world might be.