सफलता का अर्थ आलस्य का त्याग व मन को वश में करना हैं |

Posts in "Entertainment" Category

  • Beautiful poem by Harivansh Rai Bachchan

    Category : Entertainment By : Hina
    Comments
    0
    Views
    2750
    Posted
    11 Jun 2015

    Harivansh Rai Bachchan:

    Born:  November 27, 1907 

    Palace :  Allahabad 

     

    Beautiful poem by

    –हरिवंशराय बच्चन   

     
    हारना तब आवश्यक हो जाता है

    जब लङाई "अपनों से हो"

     
    ...और....

     
    जीतना तब आवश्यक हो जाता है

    जब लङाई "अपने आप से हो"

     
    मंजिल मिले ना मिले ये तो मुकद्दर की बात है!

    हम कोशिश भी ना करे. ये तो गलत बात है...

     
    हद-ए-शहर से निकली तो गाँव गाँव चली।

    कुछ यादें मेरे संग पांव पांव चली।

    सफ़र जो धूप का किया तो तजुर्बा हुआ।

    वो जिंदगी ही क्या जो छाँव छाँव चली।।.... 

     
    कल एक झलक ज़िंदगी को दे…