धरती के सारे खजाने भी एक खोया हुआ क्षण वापस नही ला सकते हैं |

Posts in "Motivational" Category

  • Short Story for Money

    Comments
    0
    Views
    30
    Posted
    24 May 2017

    Short Story for Money 

    पुराने ज़माने की बात है। किसी गाँव में एक सेठ रहेता था। उसका नाम था नाथालाल सेठ। वो जब भी गाँव के बाज़ार से निकलता था तब लोग उसे नमस्ते या सलाम करते थे , वो उसके जवाब में मुस्कुरा कर अपना सिर हिला देता था और बहुत धीरे से बोलता था की " घर जाकर बोल दूंगा "

    एक बार किसी परिचित व्यक्ति ने सेठ को ये बोलते हुये सुन लिया। तो उसने कुतूहल वश सेठ को पूछ लिया कि सेठजी आप ऐसा क्यों बोलते हो के " घर जाकर बोल दूंगा "
    तब सेठ ने उस व्यक्ति को कहा, में पहले धनवान नहीं था उस समय लोग मुझे 'ना…

  • Mother and wife

    Category : General , Motivational By : Anonymous
    Comments
    0
    Views
    22
    Posted
    18 Jan 2017

    A nice Article by Sir Amitabh Bachchan...
     What is the difference between
     your mother and wife..
     They both LOVE us,
     Both SACRIFICE for us,
     Both make us EAT
     more than we require,
     Both make our
     house into HOME,
     Both PRAY for us,
     Both are ALWAYS
     there for us,
     Both LIVE for us
     then why do...
     we post/say funny jokes about wife and Laugh & always post respectable quote for mother...The only difference I can see is one brings you into the world... and other makes YOU her world, but men always take thei…

  • माँ शीतला कि पावन सत्य कथा

    Comments
    0
    Views
    20
    Posted
    18 Jan 2017

    माँ शीतला कि पावन सत्य कथा

    यह कथा बहुत पुरानी है एक वार शीतला माता ने सोचा कि चलो आज देखु कि धरती पर मेरी पूजा कोन करता है कोन मुझे मानता हे यही सोचकर शीतला माता धरती पर राजस्थान के डुंगरी गाँव में आई और देखा कि इस गाँव में मेरा मंदिर भी नही है। ना मेरी पुजा है माता शीतला गाँव कि गलियो में घूम रही थी

              तभी एक मकान के ऊपर से किसी ने चावल का उवला पानी (मांड) निचे फेका वह उवलता पानी शीतला माता के ऊपर गिरा जिससे शीतला माता के शरीर में (छाले) फफोले पडगये शीतला माता के पुरे शरीर में जलन होने…

  • Word Importance

    Category : Other, Motivational By : Rohit
    Comments
    0
    Views
    11
    Posted
    18 May 2017

    रोटी पर "घी" और
    नाम के साथ "जी"
    लगाने से,
    "स्वाद" और "इज्जत" 
    दोनों बढ़ जाते हैं |

    इंसान “जन्म” के दो “वर्ष” बाद
       “बोलना” सीख जाता है

                लेकिन

    “बोलना” क्या है ये “सीखने” मैं
    पूरा “जन्म” लग जाता है।
     
            शब्द अमूल्य हैं

  • Muskan ki taqat-मुस्कान की ताकत

    Category : Motivational By : Anonymous
    Comments
    0
    Views
    22
    Posted
    15 May 2017

    अगर एक हारा हुआ इंसान
    हारने के बाद भी
    "मुस्करा" दे...!!
    तो........!!
    जितने वाला भी जीत की
    खुशी खो देता हैं।
    "ये है मुस्कान की ताकत"

    "संसार में केवल मनुष्य ही ऐसा एकमात्र प्राणी है,
    जिसे ईश्वर ने हंसने का गुण दिया है, इसे खोईए मत.।"

    “बिखरने दो होंठों पे, हंसी के फुहारों को,
    प्यार से बात कर लेने से, जायदाद कम नहीं होती है।"